जेपी होम बायर्स के लिए संजीवनी बनेगी नवरत्न कंपनी NBCC

जेपी होम बायर्स के लिए संजीवनी बनेगी नवरत्न कंपनी NBCC

September 08, 2017 | Friday


नई दिल्ली।रियल्टी मीडिया

जेपी इंफ़्रा में घर बुक कराने वाले करीब 30 हजार होम बायर्स का घर का सपना, टूटने से बच सकता है। NBCC इन होम बायर्स के घर के सपने को पूरा करेगा। सूत्रों के मुताबिक, केंद्र सरकार के स्वामित्व वाली नवरत्न कंपनी NBCC वित्त मंत्रालय और लेंडर्स के साथ अनौपचारिक बात कर रही है। अगर यह बातचीत सफल रहती है तो नोएडा और ग्रेटर नोएडा में जेपी इन्फ्राटेक के रुके हुए 27 आवासीय प्रॉजेक्ट्स का कंस्ट्रक्शन शुरू जाएगा।

इसके बदले में एनबीसीसी नोएडा और आगरा के बीच यमुना एक्सप्रेसवे पर जेपी इन्फ्रा की जमीन चाहता है। एनबीसीसी का मानना है कि भविष्य में यह जमीन फायदे का सौदा हो सकती है। एनबीसीसी जेपी के 27 प्रॉजेक्ट्स के कंस्ट्रक्शन को पूरा करने के लिए होम बायर्स के फंड और उन फ्लैट्स को बेचना चाहता हो जो अभी बिके नहीं हैं। बैंकों को भी साथ लाने के लिए एनबीसीसी बैंकों को यमुना एक्सप्रेसवे की जमीन से होने वाले मुनाफे का एक हिस्सा ऑफर कर रहा है। सूत्रों ने बताया कि एनबीसीसी बैंकों को 27 प्रॉजेक्ट्स के बचे हुए फ्लैट्स की बिक्री से होने वाले फायदे का एक हिस्सा भी ऑफर कर रहा है।

यह बातचीत अभी शुरुआती चरण में ही है। अभी एनबीसीसी यह विचार कर रहा है कि वह जेपी के प्रॉजेक्ट्स के कंस्ट्रक्शन के बदले यमुना एक्सप्रेसवे की कौन सी जमीन लेगा। अभी यह भी तय नहीं है कि कंस्ट्रक्शन पर कितना खर्च एनबीसीसी को करना होगा। वित्त मंत्री अरुण जेटली पहले ही सार्वजनिक रूप से जेपी के प्रॉजेक्ट्स के बायर्स के लिए चिंता जता चुके हैं। उन्होंने कहा था कि फ्लैट्स के लिए पैसा देने वाले बायर्स को पजेशन मिलना ही चाहिए।


MUST WATCH